Search
Close this search box.

Live TV

Search
Close this search box.

वैदिक पंचांग व राशिफल *दिनांक – 06 मार्च 2023*

[adsforwp id="60"]

🌞 *~ वैदिक पंचांग ~* 🌞

🌤️ *दिनांक – 06 मार्च 2023*
🌤️ *दिन – सोमवार*
🌤️ *विक्रम संवत – 2079*
🌤️ *शक संवत -1944*
🌤️ *अयन – उत्तरायण*
🌤️ *ऋतु – वसंत ॠतु*
🌤️ *मास – फाल्गुन*
🌤️ *पक्ष – शुक्ल*
🌤️ *तिथि – चतुर्दशी शाम 04:17 तक तत्पश्चात पूर्णिमा*
🌤️ *नक्षत्र – मघा 07 मार्च रात्रि 12:05 तक तत्पश्चात पूर्वाफाल्गुनी*
*🌤️योग – सुकर्मा रात्रि 08:55 तक तत्पश्चात धृति*
🌤️ *राहुकाल – सुबह 08:24 से सुबह 09:53 तक*
*🌞 सूर्योदय- 06:56*
🌦️ *सूर्यास्त – 18:43*
👉 *दिशाशूल – पूर्व दिशा में*
🚩 *व्रत पर्व विवरण – होली पूर्णिमा,हुताशनी पूर्णिमा,होलिका दहन,होलाष्टक समाप्त*
🔥 *विशेष – चतुर्दशी और व्रत के दिन स्त्री-सहवास तथा तिल का तेल खाना और लगाना निषिद्ध है। (ब्रह्मवैवर्त पुराण, ब्रह्म खंडः 27.29-38)*
🌞~*वैदिक पंचांग* ~🌞

🌷 *होली कैसे मनायें* 🌷
🙏🏻 *होली भारतीय संस्कृति की पहचान का एक पुनीत पर्व है, भेदभाव मिटाकर पारस्परिक प्रेम व सदभाव प्रकट करने का एक अवसर है |अपने दुर्गुणों तथा कुसंस्कारों की आहुति देने का एक यज्ञ है तथा परस्पर छुपे हुए प्रभुत्व को, आनंद को, सहजता को, निरहंकारिता और सरल सहजता के सुख को उभारने का उत्सव है |*
➡ *यह रंगोत्सव हमारे पूर्वजों की दूरदर्शिता है जो अनेक विषमताओं के बीच भी समाज में एकत्व का संचार करता है | होली के रंग-बिरंगे रंगों की बौछार जहाँ मन में एक सुखद अनुभूति प्रकट कराती है वहीं यदि सावधानी, संयम तथा विवेक न रक्खा जाये तो ये ही रंग दुखद भी हो जाते हैं | अतः इस पर्व पर कुछ सावधानियाँ रखना भी अत्यंत आवश्यक है |*
➡ *प्राचीन समय में लोग पलाश के फूलों से बने रंग अथवा अबीर-गुलाल, कुम -कुम- हल्दी से होली खेलते थे |किन्तु वर्त्तमान समय में रासायनिक तत्त्वों से बने रंगोंका उपयोग किया जाता है | ये रंग त्वचा पे चक्तों के रूप में जम जाते हैं | अतः ऐसे रंगों से बचना चाहिये | यदि किसी ने आप पर ऐसा रंग लगा दिया हो तो तुरन्त ही बेसन, आटा, दूध, हल्दी व तेल के मिश्रण से बना उबटन रंगे हुए अंगों पर लगाकर रंग को धो डालना चाहिये |यदि उबटन करने से पूर्व उस स्थान को निंबू से रगड़कर साफ कर लिया जाए तो रंग छूटने में और अधिक सुगमता आ जाती है |*
➡ *रंग खेलने से पहले अपने शरीर को नारियल अथवा सरसों के तेल से अच्छी प्रकार मल लेना चाहिए | ताकि तेलयुक्त त्वचा पर रंग का दुष्प्रभाव न पड़े और साबुन लगाने मात्र से ही शरीर पर से रंग छूट जाये | रंग आंखों में या मुँह में न जाये इसकी विशेष सावधानी रखनी चाहिए | इससे आँखों तथा फेफड़ों को नुकसान हो सकता है |*
➡ *जो लोग कीचड़ व पशुओं के मलमूत्र से होली खेलते हैं वे स्वयं तो अपवित्र बनते ही हैं दूसरों को भी अपवित्र करने का पाप करते हैं | अतः ऐसे दुष्ट कार्य करने वालों से दूर ही रहें तो अच्छा है |*
➡ *वर्त्तमान समय में होली के दिन शराब अथवा भंग पीने की कुप्रथा है | नशे से चूर व्यक्ति विवेकहीन होकर घटिया से घटिया कुकृत्य कर बैठते हैं | अतः नशीले पदार्थ से तथा नशा करने वाले व्यक्तियों से सावधान रहना चाहिये |आजकल सर्वत्र उन्न्मुक्तता का दौर चल पड़ा है | पाश्चात्य जगत के अंधानुकरण में भारतीय समाज अपने भले बुरे का विवेक भी खोता चला जा रहा है | जो साधक है, संस्कृति का आदर करने वाले हैं, ईश्वर व गुरु में श्रद्धा रखते हैं ऐसे लोगो में शिष्टता व संयम विशेषरूप से होना चाहिये | पुरुष सिर्फ पुरुषों से तथा स्त्रियाँ सिर्फ स्त्रियों के संग ही होली मनायें | स्त्रियाँ यदि अपने घर में ही होली मनायें तो अच्छा है ताकि दुष्ट प्रवृत्ति के लोगों कि कुदृष्टि से बच सकें |*
➡ *होली मात्र लकड़ी के ढ़ेर जलाने का त्योहार नहीँ है |यह तो चित्त की दुर्बलताओं को दूर करनेका, मन की मलिन वासनाओं को जलाने का पवित्र दिन है | अपने दुर्गुणों, व्यसनों व बुराईओं को जलाने का पर्व है होली …….अच्छाईयाँ ग्रहण करने का पर्व है होली ………समाज में स्नेह का संदेश फैलाने का पर्व है होली……….*
➡ *आज के दिन से विलासी वासनाओं का त्याग करके परमात्म प्रेम, सदभावना, सहानुभूति, इष्टनिष्ठा, जपनिष्ठा, स्मरणनिष्ठा, सत्संगनिष्ठा, स्वधर्म पालन , करुणा दया आदि दैवी गुणों का अपने जीवन में विकास करना चाहिये | भक्त प्रह्लाद जैसी दृढ़ ईश्वर निष्ठा, प्रभुप्रेम, सहनशीलता, व समता का आह्वान करना चाहिये |*
➡ *सत्य, शान्ति, प्रेम, दृढ़ता की विजय होती है इसकी याद दिलाता है आज का दिन | हिरण्यकश्यपु रूपी आसुरी वृत्ति तथा होलिका रूपी कपट की पराजय का दिन है होली, यह पवित्र पर्व परमात्मा में दृढ़ निष्ठावान के आगे प्रकृति द्वारा अपने नियमों को बदल देने की याद दिलाता है | मानव को भक्त प्रह्लाद की तरह विघ्न बाधाओं के बीच भी भगवदनिष्ठा टिकाए रखकर संसार सागर से पार होने का संदेश देने वाला पर्व है ‘होली’ !

🌞 *~ वैदिक पंचांग ~* 🌞व्यापार में लाभ के लिए , करें ये उपाय
इस होलिका दहन के बाद होलिका का पूजन करें.

पूजन करने के पश्चात नारियल, पान और सुपारी जलती होली को भेंट करें.

इसके बाद 11 परिक्रमा करें.

परिक्रमा करते समय अपनी कामना की प्रार्थना करना न भूले.

होलिका दहन के अगले दिन सुबह होलिका की थोड़ी सी राख लाकर, एक लाल वस्त्र में स्फटिक श्रीयंत्र, चांदी के कुछ सिक्के और राख को बांधकर अपने घर की तिजोरी में रख दें.
होलिका दहन के समय 7 बार उसकी परिक्रमा करें और हर बार एक पान का पत्‍ता होलिका में अर्पित करते जाएं. इस तरह पान के 7 पत्‍ते अर्पित करें. यह उपाय मां लक्ष्‍मी को प्रसन्‍न करेगा और आपको सुख-समृद्धि दिलाएगा. 
🙏🏻🌷💐🌸🌼🌹🍀🌺💐🙏🏻 जिनका आज जन्मदिन है उनको हार्दिक शुभकामनाएं बधाई और शुभ आशीष
दिनांक 6 को जन्मे व्यक्ति का मूलांक 6 होगा। इस अंक से प्रभावित व्यक्ति आकर्षक, विनोदी, कलाप्रेमी होते हैं। आपमें गजब का आत्मविश्वास है। इसी आत्मविश्वास के कारण आप किसी भी परिस्थिति में डगमगाते नहीं है। आपको सुगंध का शौक होगा।

आप अपनी महत्वाकांक्षा के प्रति गंभीर होते हैं। 6 मूलांक शुक्र ग्रह द्वारा संचालित होता है। अत: शुक्र से प्रभावित बुराई भी आपमें पाई जा सकती है। जैसे स्त्री जाति के प्रति आपमें सहज झुकाव होगा। अगर आप स्त्री हैं तो पुरुषों के प्रति आपकी दिलचस्पी होगी। लेकिन आप दिल के बुरे नहीं है।

 
शुभ दिनांक : 6, 15, 24
 
शुभ अंक : 6, 15, 24, 33, 42, 51, 69, 78

 
शुभ वर्ष : 2021, 2026
 
ईष्टदेव : मां सरस्वती, महालक्ष्मी

 
शुभ रंग : क्रीम, सफेद, लाल, बैंगनी
 
कैसा रहेगा यह वर्ष
जो विद्यार्थी सीए की परीक्षा देंगे उनके लिए शुभ रहेगा। व्यापार-व्यवसाय में भी सफलता रहेगी। विवाह के योग भी बनेंगे। स्त्री पक्ष का सहयोग मिलने से प्रसन्नता रहेगी। नौकरीपेशा व्यक्ति अपने परिश्रम के बल पर उन्नति के हकदार होंगे। बैंक परीक्षाओं में भी सफलता अर्जित करेंगे। दाम्पत्य जीवन में मिली जुली स्थिति रहेगी। आर्थिक मामलों में सभंलकर चलना होगा

*मेष*
मेष राशि के जातकों के लिए यह सप्ताह लंबे समय से चली आ रही समस्याओं को अंत करने वाला साबित होगा। सप्ताह की शुरुआत में किसी प्रभावी व्यक्ति की मदद से आपके अटके पड़े काम पूरे होंगे। कार्यक्षेत्र में सीनियर की मदद से पदोन्नति या तबादले की कामना पूरी होगी। नौकरीपेशा महिलाओं के लिए घर और कार्यक्षेत्र दोनोंं जगह मान-सम्मान बढ़ेगा। सप्ताह के मध्य में कोर्ट-कचहरी से जुड़े किसी बड़े मामले में आपको राहत मिल सकती है। फैसला आपके हक में आ सकता है या फिर आपके विरोधी समझौते के लिए राजी हो सकते हैं। गुप्त शत्रुओं की चाल नाकाम होगी। व्यवसाय से जुड़े जो लोग लंबे से कारोबार को विस्तार देने की योजना पर काम कर रहे थे, इस सप्ताह वह फलीभूत होती नजर आएगी। बेरोजगार लोगों को सप्ताह के अंत तक कोई अच्छा आफर मिल सकता है। पढ़ने-लिखने वाले छात्रों के लिए भी समय अनुकूल है। सप्ताह के अंत तक उन्हें कोई शुभ समाचार प्राप्त हो सकता है। प्रेम संबंध प्रगाढ़ होंगे। लव पार्टनर से कोई सरप्राइज गिफ्ट मिल सकता है। वैवााहिक जीवन सुखमय बना रहेगा।

उपाय: सुख-सौभाग्य को पाने के लिए प्रतिदिन हनुमत उपासना और हनुमान चालीसा का सात बार पाठ करें।

*वृषभ*
वृषभ राशि के जातकों के लिए बीते सप्ताह के मुकाबले यह सप्ताह ज्यादा शुभता लिए हुए है। इस सप्ताह के पूर्वार्द्ध में आपको धन एवं सुख दोनों की प्राप्ति होगी। इस दौरान आप सुख-सुविधा की चीजों पर धन खर्च करेंगे। किसी बहुप्रतीक्षित चीज के घर में आने पर खुशियों का माहौल रहेगा। आमोद-प्रमोद के साधनों में वृद्धि होगी। सप्ताह के मध्य में करियर-कारोबार के सिलसिले में लंबी दूरी की यात्रा संभव है। यात्रा सुखद एवं मनचाही सफलता दिलाने वाली साबित होगी। भूमि-भवन से जुड़े विवाद किसी प्रभावी व्यक्ति की मदद से दूर होंगे। पैतृक संपत्ति की प्राप्ति होगी। सप्ताह के मध्य में किसी धार्मिक-सामाजिक कार्यक्रम में शामिल होने का अवसर प्राप्त होगा। इस दौरान आपको विशेष रूप से सम्मानित किया जा सकता है। घर-परिवार में आपके द्वारा लिए गए फैसलों की सराहना होगी और परिजनों का पूरा सहयोग प्राप्त होगा। प्रेम संबंध प्रगाढ़ होंगे। दांपत्य जीवन सुखमय बना रहेगा। सप्ताह के अंत में संतान पक्ष की ओर से कोई शुभ समाचार मिल सकता है।

उपाय: प्रतिदिन देवी दुर्गा की पूजा एवं उनकी चालीसा का पाठ करें।

*मिथुन*
मिथुन राशि के लिए यह सप्ताह गुडलक लिए हुए है। सप्ताह की शुरुआत से ही आपके सोचे हुए कार्य पूरे होते हुए नजर आएंगे। नौकरीपेशा लोगों के लंबित कार्य पूरे होंगे और उन्हें मनचाही प्रगति और पद -प्रतिष्ठा हासिल होगी। करियर-कारोबार के लिए की गई यात्रा सुखद एवं लाभप्रद साबित होगी। व्यवसाय से संबंधित किए प्रयास में अपेक्षा के अनुरूप प्रगति होती हुई नजर आएगी और पूर्व में किसी योजना में किया निवेश बड़े लाभ का कारण बनेगा। सप्ताह के उत्तरार्ध में किसी शुभचिंतक की मदद से परिवार या लव पार्टनर के साथ उपजे मतभेद दूर होंगे। घर से संबंधित किसी समस्या का समाधान निकालते समय पिता का विशेष सहयोग प्राप्त होगा। प्रेम संबंध की दृष्टि से समय अनुकूल है। किसी के सामने प्रेम का प्रस्ताव रखने पर मंजूर हो जाने की संभावना बन रही है, वहीं पहले से चले आ रहे प्रेम संबंध में नजदीकियां बढ़ेंगी। खान-पान सही रखें अन्यथा पेट संबंधी दिक्कतें हो सकती हैं।

उपाय: प्रतिदिन भगवान गणेश की दूर्वा चढ़ाकर गणपति अथर्वशीर्ष का पाठ करें।

*कर्क*
कर्क राशि के जातकों के लिए यह सप्ताह मिलाजुला साबित होगा। सप्ताह की शुरुआत में आपको कठिन परिश्रम और प्रयास के बाद ही कार्य विशेष में सफलता मिल पाएगी। इस दौरान व्यवसाय से जुड़े लोगों का धन के लेन-देन करते समय विशेष सावधानी बरतनी चाहिए। सप्ताह के मध्य में अचानक से कुछ बड़े खर्च सामने आ सकते हैं, जिसके चलते आपका बजट गड़बड़ा सकता है। इस दौरान भूमि-भवन से जुड़े विवाद गहरा सकते हैं। दैनिक मजदूरी करने वाले लोगों को धन का संचय करने में मुश्किल होगी। व्यवसाय से जुड़े लोगों का पैसा बाजार में फंस सकता है। हालांकि सप्ताह के उत्तरार्ध में आपको अपनी आर्थिक स्थिति सुधरती हुई नजर आएगी, लेकिन फिर भी इस दौरान आपको इस दौरान दूसरों पर आंख मूंदकर विश्वास करने और जोखिम भरी योजनाओं में निवेश करने से बचना होगा। प्रेम संबंध में सावधानी के साथ कदम आगे बढ़ाएं, अन्यथा अपयश मिलने की आशंका है। खान-पान एवं सेहत पर विशेष ध्यान दें। सुखी दांपत्य जीवन के लिए जीवनसाथी की भावनाओं की अनदेखी करने से बचें।

उपाय: प्रतिदिन शिवलिंग पर तांबे के लोटे से अर्घ्य दें और शिवमहिम्न स्तोत्र का पाठ करें।

*सिंह*
सिंह राशि के जातकों के लिए यह सप्ताह ढेर सारी खुशियों को लिए हुए है। सप्ताह की शुरुआत में ही आपको बहुप्रतीक्षित शुभ समाचार प्राप्त होगा। इस दौरान घर में किसी प्रिय व्यक्ति के आगमन से घर में खुशी का महौल बना रहेगा। नौकरीपेशा लोगों को इस दौरान घर और कार्यक्षेत्र के बीच तालमेल बिठाने में कुछेक मुश्किलें आ सकती हैं। व्यवसाय से जुड़े लोग बाजार में आई तेजी का लाभ उठाने में कामयाब होंगे। किसी वरिष्ठ व्यक्ति की मदद से घर से जुड़े विवाद का हल निकलेगा। स्वजनों के साथ हुई गलतफहमी दूर होगी। पैतृक संपत्ति की प्राप्ति में आ रही बाधाएं दूर होंगी, जिससे आपकी मानसिक चिंताएं कम होंगी। सप्ताह के उत्तरार्ध में अचानक से किसी लंबी यात्रा पर निकलने का योग बन सकता है। यात्रा सुखद एवं आपके संपर्कों को बढ़ाने वाली साबित होगी। सप्ताह के अंत में सुख-सुविधा से जुड़ी चीजों या फिर घर की मरम्मत आदि पर खर्च हो सकता है। प्रेम संबंध की दृष्टि से यह सप्ताह आपके लिए अनुकूल है। लव पार्टनर के साथ बढि़या तालमेल बना रहेगा। जीवनसाथी और परिवार के साथ सुखद पल बिताने के अवसर प्राप्त होगी। सेहत सामान्य रहेगी।

उपाय: प्रतिदिन सूर्यदेव को तांबे के लोटे में जल, रोली और अक्षत डालकर अर्घ्य दें और आदित्य हृदय स्तोत्र का पाठ करें।

*कन्या*
कन्या राशि के जातकों को इस सप्ताह इस बात का पूरा ख्याल रखना होगा कि सावधानी हटी दुर्घटना घटी। ऐसे में घर और बाहर आपको अपने काम को बहुत ध्यानपूर्वक करना होगा। इस सप्ताह की शुरुआत में आपको कामकाज में कुछेक मुश्किलें भी आ सकती हैं। इस दौरान आपके गुप्त शत्रु सक्रिय रहेंगे। संतान से जुड़ी कोई समस्या आपके चिंता का बड़ा कारण बनेगी। नौकरीपेशा लोगों पर अचानक से कामकाज का ज्यादा बोझ बढ़ सकता है। व्यवसाय से जुड़े लोगों को इस दौरान धन का लेन-देन करते समय खूब सावधानी बरतनी होगी, अन्यथा आर्थिक नुकसान झेलना पड़ सकता है। यदि आप कारोबार का विस्तार करने की सोच रहे हैं तो बगैर अपने शुभचिंतकों की सलाह के इस दिशा में कदम आगे न बढ़ाएं। सप्ताह के पूर्वार्ध के मुकाबले उत्तरार्ध कुछ राहत भरा रह सकता है। इस दौरान आशाओं के अनुरूप सफलता मिलने से मन प्रसन्न रहेगा। आय के साधनों में वृद्धि के साथ-साथ खर्च भी बढ़ेगा। कन्या राशि के जातकों को इस सप्ताह अपनी सेहत पर विशेष ध्यान देने की जरूरत रहेगी। वाहन सावधानीपूर्वक चलाएं अन्यथा चोट-चपेट लगने की आशंका है। प्रेम संबंध में लव पार्टनर की भावनाओं की अनदेखी करने से बचें।

उपाय: प्रतिदिन हनुमत उपासना और बजरंग बाण का पाठ करें।

*तुला*
तुला राशि के जातकों के लिए यह सप्ताह मिलाजुला साबित होगा। इस सप्ताह आपके काम कभी बनते तो कभी अटकते नजर आएंगे। हालांकि आप अपनी बुद्धि और विवेक से सभी परेशानियों का हल निकालने में कामयाब होंगे। जिन नौकरीपेशा लोगों को अपनी पदोन्नति या ट्रांस्फर का इंतजार था, उन्हें इससे जुड़ी शुभ सूचना को पाने के लिए थोड़ा और इंतजार करना पड़ सकता है। सप्ताह के मध्य में भाई या बहन के साथ सहयोग से कामकाज में आ रही दिक्कतें दूर होंगी। इस दौरान नए-पुराने मित्रों से मेलजोल होगा। यह समय आपके संबंधों के लिए तो ठीक लेकिन सेहत की दृष्टि से अच्छा नहीं कहा जा सकता है। ऐसे में आपको इस दौरान अपनी सेहत को लेकर खूब सावधान रहने की जरूरत रहेगी। सप्ताह के उत्तरार्ध में अपना काम किसी दूसरे के भरोसे छोड़ने से बचें अन्यथा बना-बनाया काम बिगड़ सकता है। यदि आप भूमि भवन के क्रय-विक्रय के लिए प्रयासरत हैं आपकी अच्छी डील हो सकती है। आप अपने परिवार और बच्चों के साथ सुखद समय व्यतीत करेंगे। प्रेम संबंध में पैदा हुई गलतफहमियां किसी महिला मित्र की मदद से दूर होंगी।

उपाय: प्रतिदिन किचन में बनी पहली रोटी गाय के लिए निकालें और श्री विष्णु सहस्त्रनाम का पाठ करें।

*वृश्चिक*
वृश्चिक राशि के जातकों के लिए यह सप्ताह किसी बड़ी चिंता से मुक्ति दिलाने वाला साबित होगा। सप्ताह की शुरुआत में ही आपके व्यवसाय में आ रही कोई बड़ी बाधा दूर होगी। सत्ता-सरकार के सहयोग से लंबे समय से अटका हुआ काम पूरा होगा। भूमि-भवन के विवाद कोर्ट-कचहरी की बजाय आपसी समझौते से सुलझ जाने पर आप राहत की सांस लेंगे। सप्ताह के उत्तरार्ध में नौकरीपेशा लोगों की पदोन्नति एवं धन लाभ के योग बनेंगे। कार्यक्षेत्र में सीनियर के साथ बेहतर तालमेल बना रहेगा, जिससे आपके टारगेट समय से पहले पूरे हो जाएंगे। इस दौरान आप किसी नई और बड़ी योजना पर कार्य कर सकते हैं। नौकरीपेशा लोगों की आय के अतिरिक्त साधन बनेंगे। संचित धन में वृद्धि होगी। यदि आप विदेश से जुड़ा कारोबार करते हैं तो इस दौरान आपको कोई बड़ा कांट्रैक्ट हाथ लग सकता है। कारोबार को आगे बढ़ाने की योजना फलीभूत होती नजर आएगी। परिवार से जुड़े किसी सदस्य की उपलब्धि से घर में खुशी का माहौल रहेगा। इस दौरान किसी विशेष उत्सव या कार्यक्रम में शामिल होने का अवसर प्राप्त होगा। समाज सेवा से जुड़े लोगों का मान-सम्मान बढ़ेगा। प्रेम संबंध प्रगाढ़ होंगे। दांपत्य जीवन सुखमय बना रहेगा।

उपाय: प्रतिदिन हनुमान जी की पूजा में सात बार हनुमान चालीसा का पाठ करें।

*धनु*
धनु राशि वालों के लिए यह सप्ताह थोड़ी सी व्यस्तता लिए रहने वाला है। ऐसे में आपको इस सप्ताह अपनी ऊर्जा और समय का प्रबंधन करके चलने की बहुत जरूरत रहेगी। यदि आप ऐसा करने में कामयाब हो जाते हैं तो आपको अपेक्षा से कहीं ज्यादा सफलता और लाभ की प्राप्ति हो सकती है। नौकरीपेशा लोगों को कार्यक्षेत्र में बड़े पद के साथ अहम जिम्मेदारी मिल सकती है। जिससे आपका कार्यस्थल पर मान-सम्मान बढ़ेगा। यदि आप विदेश में करियर या कारोबार करने के लिए प्रयासरत थे तो उसमें आ रही अड़चनें दूर होंगी। किसी मित्र की मदद से नई कार्ययोजना से जुड़ने का अवसर प्राप्त होगा। सत्ता-सरकार से जुड़े मामले हल होंगे। सप्ताह के उत्तरार्ध में करियर और कारोबार के सिलसिले में लंबी या छोटी दूरी की यात्रा के योग बनेंगे। यात्रा सुखद एवं मनचाही सफलता दिलाने वाली साबित होगी। किसी श्रेष्ठ व्यक्ति से सम्पर्क होगा। इस दौरान आपको वाहन सुख की प्राप्ति भी संभव है। यदि आपका कोई मामला कोर्ट-कचहरी में चल रहा था तो उसमें फैसला आपके पक्ष में आ सकता है। प्रेम संबंध प्रगाढ़ होंगे। लव पार्टनर के साथ क्वालिटी टाइम बिताने का अवसर प्राप्त होगा। दांपत्य जीवन सुखमय बना रहेगा।

उपाय: प्रतिदिन भगवान श्री विष्णु की केसर का तिलक लगाकर पूजा एवं नारायण कवच का पाठ करें।

*मकर*
मकर राशि के जातकों के लिए यह सप्ताह मनचाहा फल देने वाला साबित होगा। सप्ताह की शुरुआत स्वजनों के साथ हंंसी-खुशी पल बिताने के अवसर प्राप्त होंगे। इस दौरान किसी प्रिय व्यक्ति के घर आगमन से घर में खुशियों का माहौल बना रहेगा। व्यवसाय से जुड़े लोग मनचाहा लाभ प्राप्त कर सकेंगे। बाजार में आई तेजी का उन्हें खासा लाभ होगा। युवाओं का अधिकांश समय मौज-मस्ती करते हुए बीतेगा। इस दौरान किसी के साथ हाल-फिलहाल में हुई दोस्ती प्रेम संबंध में तब्दील हो सकती है। यदि आप किसी के सामने अपने प्रेम का इजहार करने की सोच रहे थे संभव है कि आपकी बात बन जाए। जो लोग लंबे समय से रोजी-रोजगार के लिए भटक रहे थे, उन्हें इस सप्ताह के अंत तक कोई शुभ समाचार मिल सकता है, लेकिन ध्यान रहे कि किसी भी अवसर को हाथ से न जानें दें अन्यथा आपको बाद में पछताना भी पड़ सकता है। नौकरीपेशा लोगों पर कामकाज का बोझ बढ़ सकता है। हालांकि आप अपने सीनियर और जूनियर की मदद से उसे निबटाने में सफल होंगे। इस दौरान कामकाजी महिलाओं को घर और कार्यक्षेत्र के बीच तालमेल बिठाने में कुछेक मुश्किलें आ सकती हैं। सेहत सामान्य रहेगी।

उपाय: प्रतिदिन हनुमत उपासना और श्री सुंदरकांड का पाठ करें।

*कुंभ*
कुंभ राशि के जातकों के लिए यह सप्ताह कभी घी घना तो कभी सूखा चना जैसी स्थिति लिए रहने वाला है। सप्ताह की शुरुआत काफी भाग-दौड़ भरी रह सकती है। इस दौरान नौकरीपेशा लोगों के सिर पर कामकाज का अतिरिक्त बोझ आ सकता है, जिसे निबटाने के लिए उन्हें अतिरिक्त समय और परिश्रम की आवश्यकता रहेगी। घर के किसी बुजुर्ग सदस्य की सेहत भी इस दौरान आपकी चिंता का बड़ा कारण बनेगी। हालांकि इन तमाम परेशानियों के बीच आपको अपनी सेहत और संबंध का विशेष ख्याल रखना होगा। इस दौरान दिनचर्या में बदलाव या फिर मौसमी बीमारी के चलते आपको शारीरिक पीड़ा हो सकती है। किसी पुरानी बीमारी के दोबारा उभरने पर आपको अस्पताल के चक्कर लगाने पड़ सकते हैं। हालांकि इन तमाम विघ्न और बाधाओं के बावजूद धन सप्ताह के उत्तरार्ध में धन प्राप्ति के साधनों में बढ़ोत्तरी होगी, हालांकि उसके मुकाबले खर्च की भी अधिकता भी रहेगी। इस दौरान परिवार व मित्रों का सहयोग प्राप्त होगा। परीक्षा-प्रतियोगिता की तैयारी में जुटे छात्रों को मनचाही सफलता पाने के लिए अधिक परिश्रम करना होगा। दांपत्य जीवन में किसी बात को लेकर जीवनसाथी के साथ मतभेद हो सकता है।

उपाय: प्रतिदिन हनुमत उपासना और श्री सुंदरकांड का पाठ करें।

*मीन*
मीन राशि के जातकों को इस सप्ताह की शुरुआत में कामकाज के सिलसिले में ज्यादा भागदौड़ करनी पड़ सकती है। परिश्रम के मुकाबले कम सफलता मिलने से मन थोड़ा खिनन रहेगा। नौकरीपेशा लोंगों पर कामकाज का अतिरिक्त बोझ आ सकता है। व्यवसाय से जुड़े लोगों को बाजार में फंसे धन को निकालने के लिए ज्यादा मशक्कत करनी पड़ सकती है। सप्ताह के पूर्वार्ध के मुकाबले उत्तरार्ध थोड़ा राहत भरा रहने वाला है। इस दौरान करियर और कारोबार के सिलसिले में की गई यात्राएं मनचाही सफलता देने वाली साबित होगी। भूमि-भवन के क्रय-विक्रय की कामना पूरी होगी और उसके जरिए मनचाहा लाभ प्राप्त करने में कामयाब होंगे। इस दौरान युवाओं का अधिकांश समय अपने मित्रों और सगे सम्बन्धियों के साथ बीतेगा। भाग्य का सहयोग मिलने से धन प्राप्ति और मान- सम्मान में बढ़ोत्तरी होगी। छोटी-मोटी दिक्कतों के बावजूद व्यवसायी कारोबार में मनचाहा लाभ प्राप्त करने में कामयाब होंगे। नौकरीपेशा लोगों की आय के अतिरिक्त साधन बनेंगे। प्रेम संबंध मजबूत होंगे। लव पार्टनर के साथ क्वालिटी टाइम बिताएंगे। पारिवारिक जीवन सुखमय बना रहेगा।

उपाय: प्रतिदिन भगवान गायत्री मंत्र की एक माला जप करें।
💐💐💐💐💐💐 *राधे राधे* 💐💐💐💐💐💐

Leave a Comment

[adsforwp id="47"]
What does "money" mean to you?
  • Add your answer