Search
Close this search box.

Live TV

Search
Close this search box.

Now CM Gehlot’s minister said – If the Chief Minister is also guilty in the case, then he should go to jail | अब सीएम गहलोत के मंत्री बोले- मुख्यमंत्री भी मामले में दोषी हों तो जाना चाहिए जेल

[adsforwp id="60"]

Jhunjhunu. हमेशा अपने बयानों के चलते चर्चा में रहने वाले मंत्री राजेंद्र सिंह गुढ़ा ने एक और बड़ा बयान दिया है. इससे राजनैतिक हलकों में भूचाल आ गया है. उन्होंने कहा है कि REET मामला बड़ा संवेदनशील मामला है. यह 26 लाख युवाओं से जुड़ा हुआ मामला है. यदि इस मामले में कोई भी बड़ा आदमी शामिल है या फिर दोषी है तो उसे जेल जाना ही चाहिए. ​चाहे वो फिर कोई मंत्री, विधायक, आईएएस, आईपीएस या फिर मुख्यमंत्री भी दोषी क्यों ना हो.

यह भी पढ़ें: Video: Hijab controversy पर बड़ी संख्या में मुस्लिम महिलाएं आईं सामने, बुर्का को लेकर दिया ये तर्क

यह सिस्टम बंद होना चाहिए. मंत्री गुढ़ा आज गुढ़ागौड़जी कस्बे में गौरव सैनिक सम्मान समारोह में हिस्सा लेने आए थे. इसके बाद पत्रकारों से बातचीत करते हुए गुढ़ा ने यह बात कही. उन्होंने कहा कि एसओजी इस मामले में अच्छा काम कर रही है. लगातार आरोपी पकड़े जा रहे हैं. जेल भी जा रहे हैं. लेकिन इस मामले में दोषी हर व्यक्ति को जेल जाना चाहिए. साथ ही उन्होंने साफ किया कि कमिश्नर और उनके बीच की जो बातचीत का आडियो वायरल हुआ है उसका सच यह है कि पुलिस मेरे बंगले से धरने पर बैठे लोगों को हटाना चाह रही थी, जिसमें सिंगनौर की मनीष देवी भी शामिल थीं. लेकिन मैंने कमिश्नर को इन्हें ना हटाने की बात कही. 

गुढ़ा ने कमिश्नर से कहा था कि यह उनके इलाके का मामला है. ऐसा करते है तो वो उनके लिए सही नहीं है. वहीं उन्होंने कहा कि महिला को सहायता दिलाने के लिए वे लगातार प्रयास कर रहे हैं. पांच लाख रूपए सरकार से मंजूर करवाए जा रहे हैं. दो लाख रूपए उस ठेकेदार से दिलवाए जा रहे हैं जहां पर मनीष का पति काम करता था. वहीं उन्होंने डीजीपी से बात करके उसके पति वाले हादसे की फाइल भी फिर से खुलवाई है और जांच करवा रहे हैं. 

बयान इसलिए महत्वपूर्ण, सीएम पर लग चुके है आरोप
राजनैतिक हलकों में इस बयान को इसलिए हवा मिल रही है क्योंकि रीट मामले में विपक्षी दलों द्वारा कई बार आरोप लग चुके हैं. रीट लीक मामले में ना केवल मंत्री, बल्कि मुख्यमंत्री तथा उनके कार्यालय के लोग मिले हुए हैं. हालांकि गुढ़ा ने बयानों को हल्के अंदाज में दिया है. लेकिन इस हल्के अंदाज को सियासी लोग बड़े स्तर पर भूनाने में लग गए हैं. 

कटरीना के गालों पर फंसे थे गुढ़ा
इससे पहले कटरीना के गालों जैसी सड़कों पर बयान देकर गुढ़ा ने फंस गए थे. उस वक्त भी मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा था कि गुढ़ा को इस तरह के बयानों से बचना चाहिए, लेकिन इसके बाद भी लगातार गुढ़ा अपने विवादास्पद बयानों से बाज नहीं आ रहे हैं. 

Reporter: Sandeep Kedia

Source link

Leave a Comment

[adsforwp id="47"]
What does "money" mean to you?
  • Add your answer