Search
Close this search box.

Live TV

Search
Close this search box.

परिवार पर टूटा दुखों का पहाड़, सड़क हादसे में पिता की मौत के बाद पुत्र की भी हुई मौत

[adsforwp id="60"]

अनूपगढ़ः जानकारी के अनुसार वार्ड नम्बर 28 निवासी रामचंद्र पुत्र बुधराम अपने टेम्पों में लकड़ी भरकर अपने घर ले जा रहा था, जिसके साथ उसका भांजा मोहित पुत्र मानाराम निवासी 5 पी भी था. मोहित जन्म के बाद से ही अपने ननिहाल में मामा के पास रह रहा था. अंबेडकर सर्किल के पास पहुचंने पर अचानक टेम्पों पलट गया. संभवतया मौके पर ही मोहित की मौत हो गई. टेम्पों के पलटने से मौके पर लोगों की भीड़ लग गई. प्रत्यशदर्शियों ने उन्हें अस्पताल पहुंचाया,जहां चिकित्सकों ने बालक को मृत घोषित कर दिया. सूचना पर पुलिस तथा वार्डपार्षद बलकरण सिंह सहित अन्य मौके पर पहुंचे और परिजनों को सूचित किया. पुलिस ने मौके पर पहुंचकर घटना के संबंध में जानकारी जुटाई. लेकिन परिजनों ने किसी भी कानूनी कार्रवाई करने से मना कर दिया.

ये भी पढ़ें- राजस्थान हज कमेटी की तरफ से जयपुर और दौसा के हज यात्रियों के लिए टीकाकरण कैंप आयोजित

पिता-पुत्र दोनों हुए पखवाड़े में सडक़ हादसों का शिकार,
उक्त हादसे में मृतक मोहित के परिवार पर दुखों का पहाड़ टूट गया. गौरतलब है कि मोहित के पिता मानाराम 15 दिन पहले सीमा सुरक्षा बल मुख्यालय के सामने एक सडक़ हादसे का शिकार हुए थे. ट्रक व मोटरसाइकिल में हुए टक्कर में उन्होंनें भी मौके पर दम तोड़ दिया था. उक्त परिवार अभी मानाराम की मौत के शोक में डूबा था,कि रविवार शाम को एक और दु:खद खबर ने परिवार को हिलाकर रख दिया. अब इनके परिवार में मां -बेटी ही शेष रहे हैं. सड़क हादसे की सूचना पर मृतक के दादा भी मौके पर पहुंचे जहां उनकी रुलाई रुकने का नाम तक नहीं दे रही थी. अस्पताल में मौजूद लोगों के ढाढस देने के प्रयास विफल होते नजर आ रहे थे. गमगीन माहौल में परिजन मृतक के शव को गांव पांच पी लेकर जहां मां बहन का क्रंदन रुकने का नाम नहीं ले रहा था.

जिला रिपोर्टर- कुलदीप गोयल

Source link

Leave a Comment

[adsforwp id="47"]
What does "money" mean to you?
  • Add your answer