Search
Close this search box.

Live TV

Search
Close this search box.

डर से कांप रहा एक्टर सलमान खान को मर्डर की धमकी देने वाला गैंगस्टर लॉरेंस बिश्नोई, हाईकोर्ट में लगाई ये गुहार| Hindi News, देश

[adsforwp id="60"]

Sidhu Moosewala Murder Case Updates: एक्टर सलमान खान को जान से मारने की धमकी देने वाला और दूसरों को कभी खून से नहलाने वाला गैंगस्टर लॉरेंस बिश्नोई (Lawrence Bishnoi) अब खुद अपनी जान जाने के डर से कांप रहा है. दिल्ली की तिहाड़ जेल में बंद बिश्नोई को डर सता रहा है कि सिद्धू मूसेवाला के हत्या मामले में पंजाब पुलिस उसे जेल से बाहर निकलवारक एनकाउंटर कर देगी. इस आशंका से बचने के लिए उसने पहले दिल्ली हाईकोर्ट का रुख किया था. वहां से अर्जी खारिज होने के बाद अब उसने पंजाब-हरियाणा हाईकोर्ट में अर्जी लगाई है. 

जेल से बाहर मेरी जान को खतरा: लॉरेंस बिश्नोई

अपने वकील संग्राम सरांव और शुभप्रीत कौर के जरिए हाईकोर्ट में दायर याचिका में लॉरेंस बिश्नोई (Lawrence Bishnoi) ने कहा कि उसकी जान को जेल को बाहर खतरा है. लिहाजा मानसा जिले की लोकल कोर्ट के उस आदेश पर रोक लगाई जाए, जिसमें पंजाब पुलिस को सिद्धू मूसेवाला मर्डर केस (Sidhu Moosewala Murder Case) में उससे पूछताछ के लिए वारंट जारी किया गया है. बिश्नोई ने अपने वकीलों के जरिए कहा कि वह इस मामले में निर्दोष है और पंजाब पुलिस चाहे तो उससे वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिए पूछताछ कर सकती है. 

पंजाब-हरियाणा हाईकोर्ट में लगाई अर्जी

गैंगस्टर लॉरेंस बिश्नोई (Lawrence Bishnoi) ने अपने वकीलों के जरिए कहा कि उसकी जान को खतरा है और पेशी के दौरान उसे कुछ भी नुकसान पहुंचाया जा सकता है. बिश्नोई (35) ने याचिका में दावा किया कि उसे गायक मूसेवाला हत्याकांड (Sidhu Moosewala Murder Case) में फर्जी तरीके से फंसाया जा रहा है. उसने कहा कि इस मामले में उसका कोई भी लेना-देना नहीं है. मूसेवाला मर्डर केस में उसे जबरदस्ती घसीटा जा रहा है. हाईकोर्ट ने उसकी अर्जी पर अभी कोई फैसला नहीं लिया है और मामले की सुनवाई अभी आगे होनी है. 

NIA या CBI से हो जांच: पंजाब कांग्रेस

इसी बीच पंजाब कांग्रेस (Punjab Congress) के एक प्रतिनिधिमंडल ने बुधवार को राज्यपाल बनवारीलाल पुरोहित से मुलाकात कर मूसेवाला मर्डर केस की जांच NIA या CBI से कराने की मांग की. प्रतिनिधिमंडल का नेतृत्व कर रहे पंजाब प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष अमरिंदर सिंह राजा वडिंग ने कहा कि यह हत्या (Sidhu Moosewala Murder Case) कोई सामान्य घटना नहीं थी, बल्कि एक सोची-समझी साजिश थी जिसमें हमलावरों को कानून का खौफ तक नहीं था. इस मामले में 3 दिन बाद भी पुलिस को अभी तक कोई सुराग नहीं मिला है.

‘राज्य के विनाशकारी साबित हुई AAP सरकार’

प्रदेश सरकार पर निशाना साधते हुए वडिंग ने कहा कि मुख्यमंत्री भगवंत मान के नेतृत्व वाली आम आदमी पार्टी (AAP) की सरकार राज्य के लिए ‘विनाशकारी’ साबित हुई है. मुख्यमंत्री मान राज्य के लिए एक “पूर्ण आपदा” साबित हुए हैं. इस हत्या मामले में किसी को भी राज्य सरकार पर भरोसा नहीं है, लिहाजा इस हत्याकांड की किसी केंद्रीय एजेंसी के जरिए निष्पक्ष जांच होनी चाहिए. इस प्रतिनिधिमंडल में पंजाब विधानसभा में विपक्ष के नेता प्रताप सिंह बाजवा, पार्टी की राज्य इकाई के कार्यकारी अध्यक्ष भारत भूषण आशु, राजकुमार चब्बेवाल, सुखजिंदर सिंह रंधावा और बलबीर सिंह सिद्धू आदि शामिल थे. 

‘मान सरकार को बर्खास्त किया जाए’

वहीं मूसेवाला हत्याकांड पर शिरोमणि अकाली दल (SAD) के अध्यक्ष सुखबीर सिंह बादल ने भी बयान जारी किया है. उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री मान राज्य के गृहमंत्री के रूप में बुरी तरह से विफल साबित हुए हैं. पंजाब के लोगों को बुनियादी सुरक्षा प्रदान करने में विफल रहने के लिए उन्हें पद से तुरंत बर्खास्त किया जाना चाहिए. शिरोमणि अकाली दल के अध्यक्ष ने एक बयान में कहा कि ऐसा लगता है कि पंजाब में जंगलराज लौट आया है. यहां पर कोई भी सुरक्षित नहीं है. 

ये भी पढ़ें- Sidhu moose wala murder case: मूसेवाला के मर्डर का खटारा गाड़ी कनेक्शन! जांच में पुलिस को मिले अहम सुराग

‘पंजाब की सुरक्षा से समझौता न हो’

सुखबीर सिंह बादल ने कहा कि पंजाब एक सीमावर्ती राज्य है और इसकी सुरक्षा से समझौता नहीं किया जा सकता. उन्होंने कहा कि हमारे पास एक शत्रुतापूर्ण पड़ोसी है, जो इस स्थिति का फायदा उठाकर राज्य को और भी अस्थिर कर सकता है. बताते चलें कि पंजाब के मानसा जिले में रविवार को कुछ अज्ञात हमलावरों ने मशहूर पंजाबी गायक और कांग्रेस नेता सिद्धू मूसेवाला की गोली मारकर हत्या (Sidhu Moosewala Murder Case) कर दी थी. एक दिन पहले ही पंजाब सरकार ने मूसेवाला की सुरक्षा वापस ली थी. 

LIVE TV

Source link

Leave a Comment

[adsforwp id="47"]
What does "money" mean to you?
  • Add your answer